दिल्ली में बाजार और मॉल खुलेंगे, ऑड-ईवन के हिसाब से खुलेंगी दुकानें, मेट्रो भी होगी शुरू

नई दिल्ली: दिल्ली में अनलॉक का दूसरा फेज शुरू हो गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज लॉकडाउन में कई रियायतों का ऐलान किया। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कई रियायतों के साथ लॉकडाउन लागू रहेगा। उन्होंने कहा कि 7 जून से  दिल्ली में मॉल और बाजार खोले जाएंगे। ऑड और ईवन फॉर्मूले के साथ खुलेंगी दुकानें। यानी जो दुकान आज खुलेगी वो दूसरे दिन नहीं खुलेंगी। दुकानों को ऑड-ईवन के आधार पर सुबह 10 बजे से शाम 8 बजे तक के लिए खोला जा रहा है।  केजरीवाल ने कहा कि सरकारी दफ्तरों में 100 फीसदी क्षमता के साथ कर्मचारी काम करेंगे जबकि 50 फीसदी क्षमता से प्राइवेट दफ्तर खुलेंगे।  उन्होंने कहा कि 7 जून से मेट्रो 50फीसदी क्षमता से चलेगी। 

राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों में कमी आने के साथ लॉकडाउन हटाने की मांग भी जोर पकड़ने लगी थी। दिल्ली में फिलहाल 7 जून सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन है। अरविंद  केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार यह ध्यान में रखते हुए कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी कर रही है कि इसके चरम पर पहुंचने पर रोज 37,000 मामले आ सकते हैं और साथ ही बिस्तरों, आईसीयू तथा दवाओं की व्यवस्था भी कर रही है। उन्होंने बताया कि बच्चों के लिए आवश्यक बिस्तरों की संख्या, आईसीयू सुविधाओं तथा अन्य उपकरणों पर फैसला लेने के लिए एक बाल चिकित्सा कार्य बल गठित किया गया है। कोरोना वायरस की तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने की आशंका जतायी जा रही है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली में 450 मीट्रिक टन ऑक्सीजन भंडार करने की व्यवस्था की जा रही है, 25 ऑक्सीजन टैंकर खरीद रहे हैं और 64 छोटे ऑक्सीजन संयंत्र लगा रहे हैं। विशेषज्ञों और डॉक्टरों का एक दल उपयोगी दवाएं बताएगा तथा कोविड-19 के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाओं का भंडार रखा जाएगा।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर की तैयारियों और ऑक्सीजन प्रबंधन व आईसीयू बिस्तर सहित इससे जुड़ी विभिन्न तैयारियों को लेकर गठित दो समितियों के साथ बैठकें की। सरकार ने कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने और प्रबंधन के तरीके को सुझाने के लिए 27 मई को आठ सदस्यीय ‘विशेषज्ञ समिति’ का गठन किया था।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘दूसरे देशों के अनुभव बताते हैं कि हमें कोरोना की संभावित तीसरी लहर से सावधान रहते हुए उसके लिए पहले से तैयारियां करनी होंगी। इसी के मद्देनज़र आज माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी ने विशेषज्ञ समिति के साथ बैठक की। समिति के साथ कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई।’’ बाद में केजरीवाल ने 13 सदस्यीय ‘तैयारी समिति’ के साथ भी बैठक की जिसका गठन संभावित तीसरी लहर के लिए कार्य योजना तैयार करने के लिए किया गया है।

Show More

Related Articles

Back to top button