कोरोना के बीच इंफोसिस ने छुआ मील का पत्थर 26000 युवाओ की नई भर्तिया करेगी

दिग्गज आईटी कंपनी इंफोसिस का शुद्ध मुनाफा मार्च तिमाही में 17.5 प्रतिशत बढ़कर 5,076 करोड़ रुपये पहुंच गया। इसके साथ ही कंपनी ने 2021 में 26,000 नई भर्तियों का भी ऐलान कर दिया है।

पिछले साल जनवरी-मार्च में शुद्ध मुनाफा 4,321 करोड़ रुपये था। इंफोसिस ने बुधवार को कहा कि वर्क फ्रोम होम के दौरान आईटी सेवाओं की ज्यादा मांग से मुनाफा बढ़ा है। मांग को पूरा करने के लिए इस साल नई भर्तियों पर जोर रहेगा।

कंपनी ने 2021-22 में भी राजस्व में 14 प्रतिशत इजाफे का अनुमान जताया है। मार्च तिमाही में राजस्व 13.1 प्रतिशत बढ़कर 26,311 करोड़ रुपये रहा। कंपनी के सीईओ सलिल पारेख ने कहा, इस साल भारत सहित वैश्विक स्तर पर 26,000 भर्तियां की जाएंगी। कंपनी 1,750 रुपये के भाव पर 9,200 करोड़ के शेयर बायबैक करेगी।

जून तक टीसीएस ने कर्मचारियों की संख्या 5 लाख पहुंच जाएगी। इसके साथ ही यह कर्मचारियों के लिहाज से एसेंचर के बाद दुनिया की दूसरी बड़ी आईटी कंपनी बन जाएगी।

इतना ही नहीं देश में रेलवे के बाद सबसे बड़ी कंपनी होगी। एसेंचर के पास 5.37 लाख, जबकि रेलवे में 12.54 लाख कर्मचारी हैं। मार्च तक टीसीएस में 4,88,649 कर्मचारी थे। कंपनी 40,000 और भर्तियां कर रही है।

टीकाकरण अभियान और तेज आर्थिक सुधार की उम्मीद के बीच फैक्ट्रियों में इस साल भर्तियां (ब्लू कॉलर जॉब) की उम्मीद है। ओएलएक्स के सर्वे के मुताबिक, आईटी, ई-कॉमर्स मैन्युफैक्चरिंग इन लॉजिस्टिक और एफएमसीजी सहित अन्य क्षेत्र की क्षेत्र की कंपनियों ने बड़े स्तर पर भर्तियों की बात स्वीकारी है। 16 फीसदी कंपनियों ने कहा है कि वे अपनी क्षमता का 100 फीसदी तक नई भर्ती करेंगी।

Show More

Related Articles

Back to top button