मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, अब जनधन खाताधारकों के 41 करोड़ लोगों को….

प्रधानमंत्री जनधन खाते के बारे में एक अच्छी खबर आयी है. वित्त मंत्रालय ने इसकी शुरुआत से अब तक के आंकड़े जारी किये हैं, जिनसे कई अच्छी जानकारियां सामने आयी हैं. वित्त मंत्रालय ने बताया कि प्रधानमंत्री जन धन योजना (पीएमजेडीवाई) से अब तक 41 करोड़ से ज्यादा लोगों ने फायदा उठाया है.

वित्तीय समावेश को बढ़ावा देने वाली इस योजना के तहत छह जनवरी 2021 तक जनधन खातों की कुल संख्या 41.6 करोड़ हो गयी. वित्त मंत्रालय ने एक ट्वीट में बताया, ‘सरकार सभी नागरिकों के वित्तीय समावेशन के लिये प्रतिबद्ध है. छह जनवरी 2021 तक जनधन खातों की संख्या 41 करोड़ के पार चली गयी. 

जीरो बैलेंस वाले खाते भी कम हुए: वित्त मंत्रालय ने बताया है कि जीरो बैलेंस वाले खातों की संख्या मार्च 2015 के 58 प्रतिशत से कम होकर 7.5 प्रतिशत पर आ गयी. इससे ऐसा लगता है कि हर जनधन खाताधारक अब इसका इस्तेमाल कर रहा है. 

साल 2014 में शुरू हुई थी योजना: गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में अपने स्वतंत्रता दिवस के संबोधन में जनधन योजना शुरू करने की घोषणा की थी. उसी साल 28 अगस्त को इस योजना को शुरू किया गया था. सरकार ने 2018 में अधिक सुविधाओं व लाभ के साथ इस योजना का दूसरा संस्करण शुरू किया.

जनधन खाता खुलवाना बेहद आसान है और अगर अभी तक आपके पास कोई बैंक खाता नहीं है तो भी आप जनधन अकाउंट खुलवा सकते हैं. इसके लिए बैंक में आपको एक फॉर्म भरना होगा. उसमें नाम, मोबाइल नंबर, बैंक ब्रांच का नाम, आवेदक का पता, नॉमिनी, व्यवसाय/रोजगार और वार्षिक आय व आश्रितों की संख्या, एसएसए कोड या वार्ड नंबर, विलेज कोड या टाउन कोड की जानकारी देनी होगी. 

कोई भी भारतीय नागरिक इस योजना के तहत अकाउंट खुलवाने के लिए आवेदन कर सकता है. आवदेक की उम्र कम से कम 10 साल होनी चाहिए. किसी भी नजदीकी बैंक में जाकर या फिर बैंक मित्र के जरिए जनधन खाता खुलवा सकते हैं. PMJDY के अंतर्गत खुले खाते पर धारक 6 महीने के बाद 10,000 रुपये तक की राशि लोन के तौर पर भी ले सकते हैं.

Show More

Related Articles

Back to top button