पश्चिम बंगाल में बीजेपी को मिली संजीवनी, परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया TMC को कहा टाटा बाय-बाय

पश्चिम बंगाल में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सियासी हलचल तेज हो गई है. शुक्रवार को ममता बनर्जी की TMC को बड़ा झटका लगा है. पार्टी नेता शुभेंदु अधिकारी ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है, बीते कई दिनों से उन्होंने बगावती रुख अपनाया हुआ था.

आपको बता दें कि शुभेंदु अधिकारी ममता सरकार में परिवहन मंत्री के पद पर तैनात थे और बंगाल की राजनीति में बड़ा रुतबा रखते हैं. लेकिन बीते कुछ दिनों से उनके भारतीय जनता पार्टी में जाने की अटकलें तेज थीं, इस बीच आज मंत्री पद से इस्तीफे की खबर आ गई है. 

गुरुवार को ही शुभेंदु अधिकारी ने पहले हुगली रिवर ब्रिज कमीशन से अपना इस्तीफा सौंपा था और अब मंत्री पद भी त्याग दिया है. ममता बनर्जी को अपना इस्तीफा भेजते हुए शुभेंदु ने लिखा कि मैं मंत्री पद से इस्तीफा देता हूं, मैंने राज्यपाल को इस बारे में जानकारी दे दी है. आपने मुझे राज्य की सेवा करने का मौका दिया, इसके लिए आपका आभार.

आपको बता दें कि बंगाल में होने वाले चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी राज्य में एक्टिव हो गई है. बीजेपी का दावा है कि बड़ी संख्या में टीएमसी के नेता, कार्यकर्ता उनके साथ आना चाहते हैं. ऐसे में शुभेंदु अधिकारी के इस्तीफे को उसी से जोड़कर देखा जा रहा है.

सांसद के तौर पर लो-प्रोफाइल रहे शुभेंदु अपने सांगठनिक कौशल की वजह से TMC में एक वैकल्पिक पावर सेंटर के तौर पर उभरे हैं. दो बार सांसद रह चुके शुभेंदु नंदीग्राम आंदोलन के दौरान सुर्खियों में आए थे.

शुक्रवार को ही टीएमसी के विधायक मिहिर गोस्वामी भारतीय जनता पार्टी में शामिल होंगे. मिहिर दिल्ली में हैं और बीजेपी सांसद निशित की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता लेंगे. बीते मिहिर 1998 से ही टीएमसी के साथ रहे हैं, लेकिन अब उन्होंने पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थामने की ठानी है.

Show More

Related Articles

Back to top button