जानिए तेल और घी का गिरना क्यों माना जाता है अपशकुन…

घर में कई बार गलती से तेल या घी गिर जाता है. कई लोग इसे अशुभ मानते हैं. ज्योतिष के मुताबिक, तेल या घी का गिरना इस बात का संकेत है कि आपका बुरा समय आने वाला है. ज्योतिर्विद विनोद भारद्वाज से जानते हैं कि इसके प्रभाव से बचने के लिए क्या उपाय करना चाहिए.

भारतीय संस्कृति में कोई भी मांगलिक कार्य सरसों के तेल के बिना नहीं किया जाता है. खाने में स्वाद बढ़ाने से लेकर मालिश तक में सरसों के तेल का इस्तेमाल होता है.

तेल को शनि ग्रह का प्रतीक माना गया है. नवग्रहों में शनि को न्याय का देवता माना जाता है. अगर तेल गलती से गिर जाए तो कार्यों में बाधाएं आती हैं और धन हानि होने लगती है.ठीक इसी तरह घी बृहस्पति का प्रतीक माना जाता है और बृहस्पति धर्म का देवता माना जाता है. घी गिरना धर्म की हानि मानी जाती है. इसकी वजह से घर के सदस्यों के बीच मतभेद होने लगता है. अगर अनजाने में फर्श पर तेल या घी गिर जाए तो उसे उसी बर्तन में उठाकर ना रखें जिससे वो गिरा है और ना ही इसका इस्तेमाल करें वरना आपके हर कार्य में बाधा आएगी.गिरा हुआ तेल उसी बर्तन में डालने या फिर इस्तेमाल करने से घर में दरिद्रता भी आती है. इसलिए ऐसा करने से बचें.

तेल गिरने का दोष हटाने के लिए रोटी या चावल में वो तेल लगा लें और इसे किसी जानवर को खिला दें. इससे ये दोष घर से बाहर निकल जाएगा और घर के किसी सदस्य पर नहीं आएगा. 

Show More

Related Articles

Back to top button