किसानो का विरोध हुआ तेज : गणतंत्र दिवस पर हरियाणा CM खट्टर का कार्यक्रम स्थल बदला

कृषि कानून के खिलाफ जारी आंदोलन के बीच मंगलवार को देश गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है. किसानों के आंदोलन को देखते हुए ही अब हरियाणा सरकार ने अपने कार्यक्रमों में बदलाव किया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और अन्य कुछ मंत्रियों के कार्यक्रम स्थल को बदल दिया गया है.

दरअसल, सीएम मनोहर खट्टर को पानीपत में एक कार्यक्रम में ध्वजारोहण करना था. लेकिन यहां किसानों ने उनके विरोध करने का ऐलान कर दिया. ऐसे में अब खट्टर, पानीपत की बजाय पंचकूला के एक कार्यक्रम में ध्वजारोहण करेंगे.

दूसरी ओर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला अब अंबाला में ध्वजारोहण करेंगे. कई जिलों के किसानों ने ऐलान किया है कि किसी भी मंत्री या नेता को ध्वजारोहण नहीं करने देंगे, जबकि कोई अधिकारी करना चाहिए तो झंडा फहरा सकते हैं.

आपको बता दें कि पंजाब के बाद हरियाणा ही वो राज्य है, जहां किसान आंदोलन सबसे अधिक आक्रामक होता दिखा है. इससे पहले भी करनाल के कार्यक्रम में किसानों ने मुख्यमंत्री मनोहर खट्टर का विरोध किया था. तब किसानों की ओर से कार्यक्रम स्थल पर हंगामा किया गया, ऐसे में खट्टर का हेलिकॉप्टर लैंड ही नहीं हो पाया और कार्यक्रम रद्द हो गया.

मनोहर खट्टर के अलावा उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को भी किसानों के गुस्से का शिकार होना पड़ा था. एक कार्यक्रम स्थल के पास किसानों ने हेलिपेड को ही उखाड़ दिया था. 

गौरतलब है कि किसान इस बार बड़े स्तर पर ट्रैक्टर रैली निकाल रहे हैं. गणतंत्र दिवस के मौके पर किसान दिल्ली से सटे तीन बॉर्डर पर ट्रैक्टर रैली निकालेंगे, जिसमें हजारों की संख्या में ट्रैक्टरों के आने की संभावना है. 

Show More

Related Articles

Back to top button